Artikel Terbaru

recentpost

Microsoft के Co-founder “Bill Gates” की Success Story in hindi

Microsoft के Co-founder “Bill Gates” की Success Story in hindi, Bill Gates Biography in hindiHi Friends, इस success story मैं आपके साथ Bill Gates की Biography को share करूँगा | वह एक प्रसिद्ध Microsoft Corporation के Co-founder हैं यह computer industry के brands में सबसे अधिक पहचाने जाने वाला brand हैं आज लगभग सभी computer को कम से कम एक Microsoft install करना पड़ता हैं| Bill ने  अपने hard work से न केवल कंपनी की प्रसिद्धि को प्राप्त किया | वह आज दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति भी हैं|
अमेरिकन investor हैं उन्होंने computer, software बनाने के लिए अपने जीवन में कई प्रकार की मुसीबत को सामना करना पड़ा | वह

Bill Gates का परिचय(Introduction) 

William Henery Bill GatesIII का जन्म 28 Oct 1955 को Washington में हुआ था इनके पिता का नाम William H. Gates और माता का नाम Mary Maxwell था इनके पिताजी पेशे से एक वकील थे और इनकी माता जी किसी बैंक की एक सदस्य थी


अपने बचपन से Bill business में काफी अच्छे थे लेकिन वह विशेष रूप से math में अच्छे थे एक बार इन्होनें school में math के intellegence test में 800 points प्राप्त करे | जो की एक best रिजल्ट था | इसके बाद Bill ने Harvard Law School में enter किया |


1968 में जब Bill और उनके friend Paul Allen मिडिल school में गए, उसी समय school के Administration ने एक computer, General Electronic Computer से खरीदने का निश्चय(decide) किया | Bill कहते हैं जब वह केवल 13 वर्ष के थे तब उनके school ने teletype machine को खरीदा | तब से वह और उनका friend अपना फ्री टाइम  प्रोग्राम को लिखने में pass कर रहे थे और वह computer को interesting बनाने के बारे में सोच थे school का administration इन students से बहुत मुसीबत में था computer time के पुरे समय को कुछ ही weeks में use किया गया था | लेकिन उस समय  एक new student ने school में enter किया | जिसके पिताजी senior computer programmer के रूप में Computer Center Corporation(CCC) में काम किया करते थे अपने नए contact के कारण Bill और उनके friend ने अपने experiment जारी रखे |


युवा hackers ने machine की जटिलता और  weakness को देखा और इसके बाद उन्होंने इसकी जटिलता को दूर किया | CCC ने यह सबकुछ नोटिस किया और उन्हें computer के साथ इस काम से कुछ weeks के लिए दूर कर दिया | इसी के मध्य कंपनी की business protection बहुत ख़राब हो चुकी थी तब CCC ने Bill और उनके friend को बुलाया और इसकी पूरी security करने को कहा | इसके लिए कंपनी ने payment के रूप में उन्हें computer time offer किया |


1969 में, Computer Centre Corporation ने अपनी difficulties का दुबारा से अनुभव किया और उन्होंने declared किया कि यह एक दिवालिया(bankrupt) हैं तब Bill और उनके friend की जॉब छुट गई और वे computer time पर पूरी तरह से work करने लगे | युवा programmers एक ऐसे business की खोज कर रहे थे जहा लोग अपनी Knowledge को share कर सके| 1971 में Information Science ने Bill और उनके friend को एक payroll sheet software बनाने के लिए hire किया | 


युवा programmers रोजाना आर्डर receive कर रहे थे Bill कहते हैं जब वह केवल 15 वर्ष के थे तब उन्होंने road ट्रैफिक को optimize करने के लिए एक software बनाया जिसे Bill ने $20000 में बेचा |


Bill Gates के माता-पिता अपने बेटे के इस काम को देखकर बहुत surprise थे, जिसके कारण उन्होंने Bill के computer project को बंद कर दिया | एक साल के लिए Bill  अपने object से बहुत दूर हो गए और वह famous लोगों की किताब read करने लगे | जब वह 17 वर्ष के थे तब उनके पास एक software लिखने का proposal आया और इस proposal को उनके माता-पिता ने मना नहीं किया, एक साल काम करने बाद Bill ने इस project से $30000 कमाए |
                                                       

 Harvard University में enter किया | Bill ने ठान लिया था कि वह अपने पिताजी को follow करेंगे या math के professor बनंगे | लेकिन Bill का मन इसमें नेही लगा | वह अपना ज्यादा time Harvard में pinball, bridge या poker खेलने में pass करते थे उनके friend Paul उनसे सप्ताह(week) के अंतिम दिनों में मिला करते थे और वे दोनों अपनी कंपनी खोलने की बात करते थे

Microsoft की स्थापना(establishment) और विकास(development)

जून 1975 में Bill ने software development के लिए एक कंपनी को create किया जिसका नाम Microsoft पड़ा | इसका पहला version Micro-soft था कर्मचारियों के hard work करने के बाद भी जब कंपनी ने अपना पहला software बनाया तब उसने कुछ difficulties को महसूस किया | कंपनी के pass ज्यादा धन नहीं था जिसके कारण वह एक अच्छा sales manager नहीं रख सकी | Sales Manager के रूप में Bill Gates की माँ ने कार्य किया |


अगले कुछ सालो में Bill और Paul ने महसूस किया | कि कंपनी की income गिर रही जिसका सबसे बड़ा कारण Piracy था | बहुत सारे लोग MS basic को आसानी से copy करते  थे और इसे दूसरे लोगों को बेच देते थे जिसके कारण Bill को बहुत गुस्सा आया | तब Bill ने Feb 1976 में एक open letter लिखा जिसे अखबार में publish किया गया | इसके जवाब में उन्होंने 300 letter को प्राप्त किया, लेकिन उनमे से बहुत कम को चेक किया |

Microsoft के Co-founder “Bill Gates” की Success Story in hindi, Success Story of Bill Gates in hindi

                                                          Paul Allen and Bill Gates

जब Bill 21 वर्ष के थे तब Dec 1976 में Bill ने Harvard university को छोड़ दिया और इस कंपनी को manage करने में पूरी तरह से लग गए |


1979 में Bill ने IBM से एक ऑफर प्राप्त किया और पहली बार दुनिया के pc के लिए ऑपरेटिंग सिस्टम(operating system) को create किया | कंपनी के बहुत से लोगों ने Bill को इस software को create करने के लिए मना किया था क्योंकि वे सोचते थे कि IBM के पास कोइ प्रारुप(draft) नहीं हैं इसलिए Bill ने IBM को force किया | कि वह Digital Research में उनकी मदद करेंगा|


इसी बीच Microsoft ने $50,000 में एक ऑपरेटिंग सिस्टम ख़रीदा | जिसका नाम 86-DOS था इसके founder Tim Paterson थे Microsoft ने 86-DOS में कुछ परिवर्तन किये और दुनिया को MS-DOS से परिचित कराया जिसे IBM के computer में use किया गया | Sep 1980 में IBM ने Microsoft के साथ एक contract signed किया | यह contract computer industry के इतिहास में एक बहुत बड़ा बदलाव था |


1983 में Microsoft Hardware ग्रुप ने एक मैनीपुलेटर(manipulator) create किया | जिसका नाम माउस(Mouse) रखा गया | इसी साल Microsoft ने MS-DOS के लिए एक text editor को भी present किया | 



1993 में Windows के registered users की संख्या 25 million तक पहुचं चुकी थी इसी प्रकार Windows दुनिया का सबसे popular ऑपरेटिंग सिस्टम बना | Microsoft ने WindowsNT नाम का software present किया जो की workstation के लिए designed किया गया था | दो साल बाद The Microsoft Corporation ने Windows95 को present किया | एक साल के अन्दर इसकी 25 million copies बिक चुकी थी |


1998 में Microsoft ने Windows98 को show किया | इसके साथ ज्यादा बदलाव नहीं किए गए थे इसके बाद Microsoft ने Windows 2000 को create किया | जिसे बहुत अच्छा ऑपरेटिंग सिस्टम कहा गया | 

Microsoft ki success story


2012 में Microsoft ने बहुत अधिक बदलावों के साथ Windows8 को present किया | अब user इसको tablet या mobile में भी use कर सकते हैं| एक इंटरव्यू में Bill Gates ने कहा था कि वह Windows8 ऑपरेटिंग सिस्टम पर बहुत गर्व(proud) करते हैं Windows10 को जुलाई 2015 में present किया गया |  Windows10 को present होने के एक साल तक Windows7 और 8/8.1 में फ्री अपग्रेड किया जा सकता था |


Bill Gates ने Microsoft Corporation को छोड़ा (Quit)

Jan 2008 में Consumer Electronic Show की ओपनिंग के समय, Bill ने कहा कि वह जुलाई की starting में Microsoft को छोड़ देंगे | उन्होंने annouce किया कि वह अब से Bill & Melinda Foundation पर focus करेंगे | जो कि education और health को support करती हैं|


जून 2008 के अंत तक Gates ने Microsoft को छोड़ दिया, उन्होंने अपनी सारी जिम्मेदारी Steve Ballmer को दे दी | जो की कंपनी के पूर्व CEO हैं| इसके बाद भी Bill Gates board के directors के चेयरमैन बने और उनके पास अब भी बहुत अधिक shareholder थे |


04 feb 2014, को Bill ने Board के चेयरमैन के पद को छोड़ दिया और सीधे नए CEO Sateya Nadella के साथ करने लगे, जो कि एक टेक्नोलॉजी एडवाइजर हैं|


Bill Gates की पहचान (Recognition) 

Bill को उनकी उपलब्धि(achivement) के लिए पूरी दुनिया में एक पहचान मिली | उन्होंने इन universities से डॉक्टर की उपाधियों  को प्राप्त किया :-

Royal Institute of Technology (Stockholm, Sweden)
.
Nyenrode Business Universiteit, (Breukelen, The Netherlands, 2000)

Tsinghua University (Beijing, China, April 2007)

Harvard University (Cambridge, USA, June 2007)

Karolinska Institutet (Stockholm, Sweden, 2007)

Cambridge University (Cambridge, USA, June 2009)


जब वह एक student थे तब वह परोपकारी कार्य की ओर inspire हुए | उन्होंने 2002 में अपनी पत्नी के साथ मिलकर कम आय वाले देशो को support किया |


2005 में  रानी एलिज़ाबेथII ने Bill Gates को British Empire के कमांडर की पदवी से नियुक्त किया | Nov 2006 में Mexican सरकार ने Bill Gates और उनकी पत्नी Melinda Gates को स्वास्थ्य(health) और शिक्षा(education) में सहयोग देने के लिए पुरस्कार प्रदान किया |


2010 में The Franklin Institute ने Bill Gates को Microsoft की उपलब्धि(achivement) प्राप्त करने लिए Bower पुरस्कार प्रदान किया |


Jan 2005 में Bill ने एक शानदार मशीन को पेश किया जिसे Omniprocessor कहा गया | यह processor गंदे पानी को साफ़ करने का काम करता था इस processor ने दुनिया के 2.5 billion लोगों की मदद की |


इसको Janicki इंजीनियरिंग कंपनी ने बनाया था जिसे CEO Peter Janicki थे और इसमें Bill & Melinda Foundation ने फण्ड दिया था 


Bill Gates की Family 

Gates एक बहुत अच्छे पारिवारिक आदमी(family man) हैं, उनका विवाह 1994 में Melinda French के साथ हुआ | 1996 में उनकी पहली बेटी का जन्म हुआ जिसका नाम Jennifer हैं, तीन साल के बाद उनके यहा एक प्यारी बच्ची का जन्म हुआ जिसका नाम Phoebe हैं| 


Bill पहली बार Melinda से 1987 में New York शहर में Microsoft की press में मिले थे वह उनकी कंपनी में लंबे समय से काम कर रही थी अब वे एक बहुत बड़े घर में रहते हैं जो Seattle के पास हैं, Microsoft का Headquarter भी Seattle में ही हैं| 
                                                       
Bill Gates ki life
Bill Gates and his wife

कुछ लोग ही जानते हैं कि Bill एक बहुत अच्छे लेखक भी हैं उन्होंने एक किताब लिखी जिसका नाम The Road Ahead था जिसके co-writer Nathan-Myhrvold थे जो Microsoft में Chief Technical Officer थे और इसके journalist Peter Rinearson थे| 


1999 में Bill Gates ने दुबारा एक और book लिखी जिसका नाम Business @ the Speed of Thought था यह किताब यह बता थी कि कैसे business की problem को आईटी की हेल्प से solve किया जा सकता हैं इस किताब को 25 भाषाओं में ट्रांसलेट किया गया |


March 2015 में 118,854 कर्मचारी Microsoft Corporation में काम करते थे 2015 में कंपनी का कुल राजस्व(revenue) $93.58 billion था 


इन सब के बाद मैं Bill Gates के बारे में यह कहना चाहता हूँ कि वह positive और negative दोनों थे लेकिन एक बात clear थी वह कहते थे कि कुछ भी जीवन में impossible नहीं हैं| मुझे आशा हैं कि आप लोगों को Microsoft के founder की Biography को पढकर आनदं आया होगा | 

Keywords :- Bill Gates ki success story in hindi, Bill Gates की Biography in hindi,  

  
    



  

कैसे mobile या tablet की touchscreen साफ करे ?

Hi Friends, आज लगभग सभी लोगों के पास smartphone या tablet हैं और हम इसका use रोजाना करते हैं जिसे कारण इनकी स्क्रीन पर धूल, मिट्टी और finger print लग जाते हैं मैंने बहुत से लोगों को देखा हैं कि वह स्क्रीन पर लगी चीजों को अपनी cotton की shirt से, हाथों से या इधर-उधर के समान से साफ़ करते हैं जो बहुत ही गलत तरीका हैं ऐसा करने से आपके फ़ोन या tablet की touch ख़राब भी हो सकती हैं आज मैं आपको touch साफ़ करने का proper तरीका बताऊंगा | लेकिन उससे पहले आप यह जाने कि आप अपने फ़ोन या tablet की touch में क्या न करे |

Touchscreen की safety 

Touchscren को साफ़ करने से पहले में आपको इसकी safety के कुछ easy तरीके share करूँगा | इन तरीको का use करके आप अपनी device की touch को safe कर सकते हैं-

1) आपको कभी भी अमोंनिया और अल्कोहल based chemical का use नहीं करना चाहिए | यदि आप liquid का use करते हैं तो आपको cotton पर बहुत कम पानी का use करना चाहिए | आपको सदैव अच्छी quality के chemical solution का use करना चाहिए |

2) आपको कभी भी paper towel या tissue paper का use नहीं करना चाहिए क्योंकि ऐसा करने पर आपकी device में scratch पड़ जाएंगे | starting में यह scratch बहुत हल्के होंगे और यह scratch आपकी touch में लंम्बे समय के लिए build हो सकते हैं, जिससे आपकी touch में dull या damage भी हो सकता हैं|

3) कभी भी device की touch को hardly press न करे ऐसा करने पर आपकी device में हानि पहुचं सकती हैं|

इन सभी तरीको का use करके आप अपनी device की touch को save कर सकते हैं अब बात करते हैं कि touch को साफ़ कैसे किया जाता हैं इस process को मैं आपको कुछ methods से समझूंगा-

कैसे touchscren साफ़ करे ?

1.Microfiber cloth का use करना 

यह बहुत हल्का cloth होता हैं जब कभी आप नया चश्मा लेकर आते हो तो आपने देखा होगा कि चश्मे के साथ एक cloth होता हैं वही cloth microfiber होता हैं|
यह touch screen को साफ़ करने का सबसे simple रास्ता  हैं आप इसकी हेल्प से अपनी device को बिना किसी risk के साफ़ कर सकते हैं microfiber cloth आपकी device पर लगे oil या dust को पूरी तरह से साफ़ करता हैं एक microfiber cloth बहुत smothly  work करता हैं इसका use smartphone या tablet की screen को साफ़ करने के अतिरिक्त TVs, computer screen, sunglasses आदि को साफ़ करने के लिए किया जाता हैं|

kaise mobile या tablet की touchscreen clean  करे



touch को साफ करने के लिए अपने फ़ोन को turn off कर दे जिससे आपके फ़ोन पर जमा dust और scratch अच्छी तरह से दिखाई देगा | अब आप फ़ोन के गंदे area में इस कपड़े को हल्के पानी के साथ लेकर horizontal या vertical घुमाएँ | जब एक बार गन्दा area साफ़ हो जाए तो दूसरे गंदे area पर जाए और यही process दुबारा करे | आप एक बात ध्यान रखे कि process में आपको पानी का use अधिक नहीं करना हैं या साबुन वाले पानी का भी use नहीं करना हैं| जब  आपकी touch पूरी तरह से सूख जाए तब आपको इसे turn on करना हैं|

2.Scotch tape का use करना 

यदि आप microfiber cloth का use नही करना चाहते हैं तो आपको अपनी screen के लिए scotch tape की आवयश्कता होंगी | इसकी हेल्प से भी screen की dust और fingerprint को आसानी से साफ़ किया जा सकता हैं| आपको इसमें पुराने process को ही use करना हैं |













Facebook के Founder “Mark Zuckerberg” की Success Story in Hindi

नमस्कार दोस्तों, आज मैं आपके साथ “Mark Zuckerberg” की success story को शेयर करूँगा | कि किस तरह से Mark ने facebook को बनाया | Mark दुनिया के एक युवा billonaire हैं तो आईये जानते हैं “Mark Zuckerberg” की success story:-


Facebook के CEO “Mark Zuckerberg” का जन्म 14 May, 1984 को "Newyork" शहर के “Dobbs Ferry” में हुआ था Mark अकेले तीन बहनों के भाई थे  Mark की तीनों बहनों का जन्म भी "Newyork" शहर के “Dobbs Ferry” में हुआ था Mark की बहनों का नाम "Arielle, Randi और Donna" था Mark के पिता का नाम “Edward Zuckerberg” था उनके पिताजी एक dentist का काम करते थे और उनकी माताजी का नाम “Karen Zuckerberg” था वह एक मनोचिकित्सक(psychiatrist) थी Mark को programming language में interest अपने स्कूल के प्रारभिंक दिनों से था जब Mark केवल 10वर्ष के थे तब उन्होंने अपना पहले computer PC Quantex 486DX का अविष्कार किया |


Mark की Biography में हमने पाया हैं कि Mark को “Atari BASIC Programming” को उनके पिता ने सिखाया था और जब Mark केवल 12वर्ष की आयु के थे तब उन्होंने एक messenger का अविष्कार किया जिसे “ZuckNet” कहा गया | इस messenger को उनके पिता ने अपने office के computer में install किया | जब उनके office में कोई patient आता था तो उनकी receptionist इस messenger की help से  उन्हें inform कर देती थी| Mark ने बहुत सारे game और communication tools का अविष्कार किया | वह यह सबकुछ अपने fun के लिए किया करते थे


 Mark ने अपने high school के दिनों में "Media Player" के लिए एक ऐसे software का निर्माण किया | कि user जो song चाहता था यह उसे present कर देता था Microsoft और AOL को इस software में interest था यह दोनों companies इस software को Mark से खरीदना चाहती थी इन companies ने Mark को कई हजारों डॉलर ऑफर किये  लेकिन Mark ने इस software को नहीं बेचा और फ्री में internet पर upload कर दिया |


जब Mark “Phillips Exeter” नाम की Academy में पढाई कर रहे थे तब Mark ने fencing में अपना बहुत अच्छा talent दिखाया और वह fencing team के caption भी चुने गए | लेकिन वह कोडिंग पर ही काम करे रहेथे और एक new software बनाना चाहते थे

Facemash fun site for voting

2003 की बात हैं जब एक श्याम Mark बीमार थे तब उनके mind में एक site बनाने का idea आया | जिसे “Facemash” कहा गया | Mark ने इस site के लिए "Harvard" का डाटा हैक करने की सोची जहा पर students अपना photo upload करते थे Mark ने तुरंत ही एक program बनाया इस program में उन्होंने दो female students को select किया | और दूसरे लोगों से पूछा “who is hotter” ? और लोगों ने इसका voting से जवाब दिया |
                एक ही रात में इस site पर 22000 लोगों ने request किया | जिससे "Harvard" का सर्वर  crashed हो गया था और आप शायद जानते नहीं होंगे कि Mark उस time नशे में थे और साथ में blogging भी कर रहे थे


Facebook की Starting


Mark की site facemash से 10 months पहले, "Harvard University" के ही एक student "Divya  Narendra”  को एक social networking site बनाने का विचार आया | जहाँ पर students अपने emotion को लेकर suffering कर सके | "Divya Narendra" के दो “Twins” partner "Tyler और Cameron Winklevoss” थे Winklevoss twins के पिता का नाम “Howard Winklevoss” था जो कि एक successful finacial consultant थे इस काम इन्होंने इनका पूरा सहयोग दिया था


एक बार की बात हैं जब Narendra और Mark बातचीत कर रहे थे तब  Narendra ने Mark से कहा हम एक साथ मिलकर एक project बनाएगे और इसका नाम “Harvard Connection” होगा | बाद में इसका नाम change करके “ConnectU” कर देंगे और इसके members इस पर अपनी photo, personal information और दूसरे useful link post करेंगे | Mark ने इस work को accept कर लिया और जब Mark इस पर काम कर रहे थे तब उन्हें एक social networking site बनाने का idea आया|


                                                   Tyler and Cameron Winklevoss


“Mark Zuckerberg” ने 04 Feb 2004 “TheFacebook.com” को registered किया जिसे आज facebook के नाम से जाना जाता हैं तब यह site केवल Harvard के students के लिए थी |  जब उनकी site पर 4000 students ने register कर लिया, तब Mark और उनके मित्र "Eduardo Saverin" ने मह्सूस किया कि अब और new programers की need होगी | तब Mark ने अपने मित्र “Darren Moskowitz” को इसमें जोड़ा और कुछ समय बाद  इन्होंने facebook की service को “Columbia , Stanford and Yale Universites” के students के लिए open कर दिया |


Facebook की service को कुछ समय बाद सभी students के लिए open कर दिया गया | लेकिन इस पर register होने के लिए .edu जोन के email address की need थी edu का मतलब कि student education area  से belong करता हो | जब इस पर कोई new student register होता था तो उसके लिए .edu email address और real profile picture की need होती थी यदि कोई student अपनी real photo नहीं upload नहीं करता था तो उसका account delete कर दिया जाता था


जैसे-जैसे साल गुजरते गए facebook भी उतना ही अधिक famous होता गया | अब Mark को एक investor की need थी उन्हें अपना पहला investor “Paypal” के रूप मिला जिसके Co-founder, “Peter Thiel” थे “Peter Thiel” ने facebook के लिए $500,000 का investment किया जो उस समय काफी था| facebook बहुत तेजी से famous हो रही थी facebook की starting के एक साल पूरा होने से पहले ही इस पर 1 million student  join कर चुके थे अब इसके development के लिए और investor की need थी तब “Accel Partner” ने $12.7 million और “Greylock Partners” ने $27.5 million का investment किया |  ‘


Facebook की service 2005 में USA की लगभग सभी universities में open कर दी गई थी| facebook की लोकप्रियता को देखते हूँ Mark ने इसे सभी लोगों के बारे में open करने का सोचा | तभी से इसका नाम TheFacebook से “Facebook” हो गया |


जब facebook के users की संख्या 50 million से ज्यादा हो गई तब बड़ी-बड़ी companies ने Mark को facebook बेचने के लिए बड़े-बड़े ऑफर किए यहा तक की “Yahoo” ने इस project को खरीदने के लिए $900 million  का ऑफर दिया लेकिन Mark ने इस ऑफर को मना कर दिया|


Facebook के खिलाफ Lowsuits(मुकदमा)


facebook बहुत आसानी से launch नहीं हुई इसके पीछे कई घोटाले हुए facebook के launch के 6 दिन बाद “Cameron” और “Tyler Winklevoss” और “Divya Narendra” ने Mark पर उनके idea चुराने का आरोप लगाया | और उन्होंने दावा किया कि facebook को बनाने के लिए Mark ने Harvard Connection का कोड चुराया हैं और इसे facebook में use किया हैं Mark ने उन से कहा कि उसने facebook को बनाने के लिए “Harvard Connection” के कोड का use नहीं किया |





अब  twins भाइयो और Narendra ने Mark पर उनका idea चुराने के लिए मुकदमा दायर किया, लेकिन कोर्ट ने उनके मुक़दमे को रिजेक्ट कर दिया | इसके बाद उन तीनों ने फिर से Mark के against सोर्स कोड चुराने का मुकदमा दायर किया | लेकिन किसी कारण से इस मुक़दमे का फैसला नहीं हो सका और 2009 में Mark ने उन्हें $45 million देने के लिए तैयार हो गए, इसमें Mark ने उन्हें $20 cash के रूप में दिए और बाकी facebook के शेयर के रूप में दिए | 2009 में facebook users की संख्या 150 million से अधिक हो चुकी थी

17 May 2011 को दोनों twins भाइयों ने Mark के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में केस दायर किया | जिस पर सुप्रीम कोर्ट ने again विचार किया |

कैसे facebook ने पैसे कमाए


2013 में facebook की नेट income $1.5 billon तक पहुचं चुकी थी उसकी growth rate भी बहुत तेजी से बड़ी | facebook की बेसिक eraning अपने page पर Add लगने से होती हैं जैसे जैसे site पर users की संख्या बढती गई वैसे वैसे facebook की earning में increment होता गया | facebook की 85% earning facebook page पर advertise show करने से होती हैं और बाकी की 15% earning उन users से होती हैं जो Add पर click करके कुछ खरीदते थे


Mark ने Instagram, Oculus Rift, and WhatsApp


Mark ने April 2012 को $1 billion में instagram को खरीदा |instragram एक प्रकार “mobile photo sharing app” हैं जिसे “Krieger और Kevin Systrom” ने बनाया था यह पहले iOS को support करता था लेकिन अब यह andorid OS को भी support करता हैं|

March 2014 में, Mark ने $2 billon में Oculus Rift को खरीदा जो की एक virtual reality hardware हैं इसके founder  “Palmer Freeman Luckey” थे

October 2014 में $22 milion में whatsup को ख़रीदा, इसके लिए facebook ने $4.59 का paid cash में किया और बाकी का payment कंपनी के 177,760,669 shares से किया | whatsup एक messaging app हैं जिसे 2009 में “Jan Koum and Brian Acton” ने बनाया था


“Mark Zuckerberg” का life style

Mark अभी “Palo Alto” में रहते हैं उनके पास 5000 square feet की property हैं




19 May 2012 को Mark का विवाह उनकी girlfriend "Priscilla Chan" से Alto California में हुआ और 1 December 2015 को उनके घर पर एक बेटी का जन्म हुआ | Mark ने facebook के 99%($45 billion) शेयर को दुनिया की भलाई के लिए donate कर दिए |


दोस्तों आज Mark Zuckerberg के ऊपर एक book लिख गई हैं जिसका नाम “The Facebook Effect” आप लोगों को इस book को read करे और Mark के ऊपर  एक film बन चुकी हैं जिसका नाम “The Social Network” हैं आप लोगों इस फिल्म को जरुर देखना चाहिए |

तो दोस्तों यह थी Facebook के CEO और Founder “Mark Zuckerberg” की Biography. Thankyou Friends









कैसे pc में file permament delete करे ?

Hi friends, जब आप अपनी फाइल्स को delete करते हैं तो  फाइल्स delete होकर Recycle Bin में चली जाती हैं लेकिन वह file permanent delete नहीं होती हैं आपको file को permanent delete करने के लिए Recycle Bin में जाकर permanent delete करना पड़ता हैं  आप अपनी किसी भी file को जैसे :-audio file, video file या कोई भी file जिसे आप permament delete करना चाहते हैं आप इसको बहुत easy  तरीके से कर सकते हैं और मैं आपको  file को permanent delete करने के दो तरीके को बारे में 
 बताऊंगा | 

First Way

यह तरीका बहुत ही easy हैं आप कुछ steps को follow करके अपनी file को permanent delete कर सकते हैं:- 
Step1- सबसे पहले अपने pc या laptop के desktop पर जाए |

Step2- वहां से आप Recycle Bin पर जाए और उस पर right click करे | और properties के option पर click करे |

kaise pc m file permanent delete kare


Step3- यहा पर आपको दो option होंगे | Customize size and Do not file तो the Recycle Bin, Remove file immediately when delete होंगे. इसमें आपको "Do not file तो the Recycle Bin, Remove file immediately when delete" के option पर tick करे और apply करके ok पर click करे |




अब आप  जिस file को delete करना चाहते हैं वह file permanent delete हो जाएगी |  

Second Way

इस तरीके में आप जिस file को delete करना चाहते हो उस को select करे और अपने pc या laptop से “shift + delete” को एक साथ press करे जिससे आपकी file permanetly delete हो जाएगी  |

Keywords:- kaise pc m file permanent delete kare

कैसे Window7 में अपने computer का Administration change करे ?

Hi friends, आज मैं आपको यह बताता हूँ कि computer में Administration का work क्या होता हैं ? किसी भी computer में एक Administrator computer में files, system और settings को पूरी तरह कंट्रोल करके रखता हैं एक administrator, new administrator को create कर सकता हैं या यह पुराने user को हटा भी सकता हैं यदि आप अपने administrator को change या find करना चाहतें हैं जो की बहुत easy process हैं बस इसके लिए आपको कुछ  steps को fellow करना होगा :-

Step 1- सबसे पहले आपको taskbar  से windows के button पर click करना होगा | 

Step 2- इसके बाद आपको “control panel” पर click करना होगा | 


आप इसे run command “windows key + R” से भी open कर सकते हैं 



Step 3- अब यह करने के बाद आपको “User Account” को select करना होगा | आपका user account ka
option तब show करेगा जब आपकी window के upar right corner में “small या large icon” select होगा |



Step 4-इसके बाद आपको “Manage another account” पर click करना होगा |



Step 5-अब आप जिस account को manage करना चाहते हैं उस account को select करे और उस पर click करे |



Step 6-इसके बाद आपको “Change the account type” पर click करना होगा |



Step 7-अब आपको “Administrator” के option पर tick करना होगा |



Step 8-यह इस process का last step हैं इसमें आपको “Change Account Type” पर click करना होगा और अब आपका Administrator change हो जाएगा | 

Keywords:- Kaise Apne Computer Account Ka Administrator Change Kare, Computer  Administrator Change Information in Hindi, How to Change or Find Administration Information in Window7 in Hindi
  

X- Rays information in hindi

Hi friends, आज मैं आपको एक important topic के बारे में बताता हूँ कि X- Rays क्या हैं ? यह किस प्रकार produce की जाती हैं ? और इनका use कहा कहा किया जाता हैं ? इन सभी बातो की जानकारी आपको इस post में दी जाएगी |

परिचय(Introduction)

चलिए दोस्तों पहले इसके introduction की बात करते हैं, इसे 1895 में German Scientist “Rantgon” देखा कि जब fast velocity(speed) से चलने वाली cathode rays अधिक weight और high melting point वाली मेटल की प्लेट से टकराती हैं तो एक new ray generate होती हैं जिन्हें X-Rays कहा जाता हैं, यह  आखों से दिखाई नहीं देती  हैं इन्हें photography plate पर देख सकते हैं इन rays को “Rantgon Rays” भी कहा जाता हैं| 

X- Rays का Production

अब इसके production पर बात करते हैं, X- Rays के production के लिए “coalidge tube” का use किया जाता हैं इसमें hard glass का एक बल्ब होता हैं जिसके अन्दर high vaccum भरा होता हैं, इसमें एक step-up ट्रांसफार्मर, filament और target के बीच लगा होता हैं जब इस ट्रांसफार्मर से 20000 volt का ac apply किया जाता हैं तो filament से इलेक्ट्रान(electron) निकलने लगते हैंऔर यह target से टकराते हैं और X- Rays निकलने लगती हैं इलेक्ट्रान(electron) के continously टकराने से target गर्म(heat) हो जाता हैं दोस्तों शायद  आप नहीं जानते होगे |

X-Rays information in hindi, X-Rays ki पूरी jaanakri hindi main, X-Ray introduction in hindi, Application of X-Rays in hindi

 कि इलेक्ट्रान(electron) की कुल energy का 1% भाग ही X-Ray produce करता हैं और बचा part heat में change हो जाता हैं| यदि आप इस heat को हटाने का प्रबंध नहीं karenge तो आपका target pighal भी  सकता हैं यही reason हैं कि target के चारो ओर कॉपर की tube में water flow किया जाता हैं जिससे target को cool रखा जाता हैं| जब X-Rays produce की जाती हैं तो यह dhayaan रखा जाता हैं कि filament से निकलने वाले इलेक्ट्रान target पर pahucne से पहले tube की गैस(gas) में takar न हो यही reason कि  tube में हाई vaccum भरा जाता हैं यदि ऐसा नहीं होता हैं तो filament को loss होगा |

X-Ray की Properties

इसकी properties कई प्रकार की होती हैं उनमें से कुछ इस प्रकार हैं-

1)यदि इनको किसी व्यक्ति की body पर डाला जाता हैं तो यह  उनके लिए बहुत घातक होती हैं और उनकी body पर इनसे बहुत बुरा प्रभाव भी पड़ता हैं|

2)यह एक सीधी रेखा में चलती हैं और ये प्रकाश के वेग से चलती हैं|

3)यह photography plate पर chemical reaction करके उस black कर देती हैं|

4)X-Rays different चीजों जैसेः-लकड़ी, gate, धातु की पतली चादर, मॉस में आसनी से enter कर जाती हैं lakin यह भारी वस्तुओं में से pass नहीं होती हैं अगर इनके रास्तें में कोई भारी वस्तु आती हैं तो उनकी छाया बन जाती हैं|

5)यह एक छोटी wavelength(.03-30A) की electromagnt wave होती हैं जिसके कारण इनकी energy बहुत अधिक होती हैं इनकी wavelenght, light की wavelenght(4000-7500A) से बहुत कम होती हैं|

6)यह magnetic और electric area में stable रहती हैं|




X-Rays के उपयोग 

आजकल X-Rays का use बहुत जगह पर किया जाता हैं जैस:-surgery, art, detective department और बहुत से जगह पर इसका use किया जाता हैं आज में आपको इससे related पूरी जानकारी दूंगा |

1.Surgery में

X-Rays low density की चीजों जैसेः- लकड़ी, कागज़, मॉस और blood में आसानी से enter कर जाती हैं lakin high density जैसेः- लोहे से पास नहीं होती हैं अब जानते हैं कि X-Rays किस प्रकार लिया जाता हैं अब रोगी के जिस part की internal जाचं करनी हैं उस part के नीचे photography की plate को रखकर ऊपर से कुछ second के लिए X-Rays को डाला जाता हैं इससे धसी गोली या पथरी की उपस्तिथि का बिल्कुल ठीक तरह से पता चल जाता हैं| इसकी help से टूटी हड्डी का भी बिल्कुल ठीक तरह से पता लगाया जा सकता हैं|

2.Business में

 X-Rays का use business में भी किया जाता हैं इसके help से नकली हीरो और असली हीरो की पहचान की जाती हैं| सीप में मोती हैं या नहीं इसकी जाचं भी X-Rays की help से की जाती हैं| इसकी help से रबर, लकड़ी आदि समान की जाचं भी की जा सकती हैं|

3.Engineering Department में

 X-Rays के उपयोगों में से यह भी एक important use हैं, इसकी help से भवनों और पुलों के अन्दर लगे लोहे के internal दरारों, वायु के बुलबुलों आदि का पता लगाया जा सकता हैं इन दरारों को हटाकर दुर्घटना को रोका सा सकता हैं|

4.Detective Department में
यह rays detective department को बहुत help करती हैं इनकी help से body के अन्दर hidden वस्तुओं को आसानी से देखा जा सकता हैं| कस्टम अधिकारी इन्ही rays की help से boxes में hide किए गए जेवर आदि समान का पता लगाते हैं|

5.Radiotherapy

X-Rays की help से कुछ रोगों का treatment भी किया जा सकता हैं इसकी help से कैंसर का भी treatment किया जा सकता हैं, यदि कोई व्यक्ति इसका अधिक use करता हैं, तो उसकी health को नुकसान हो सकता हैं इसलिए डॉक्टर भी इस पर कार्य करने के लिए सीसे के cloth और चश्मे पहनते हैं|

6.Art में:- 

X-Rays के उपयोगों में से यह भी एक important उपयोग हैं इसकी help से पुरानी(old) oil paintings में होने वाले परिवर्तन की easily जाचं की जा सकती हैं|

Keywords:- X-Rays information in hindi, X-Rays ki पूरी jaanakri hindi main, X-Ray introduction in hindi, Application of X-Rays in hindi

कैसे offline Gmail check kare ?

Hello friends, आज में आपको bahut imporatnt topic के बारे में बता रहा हूँ आज हर किसी व्यक्ति के पास अपना-अपना gmail account होता हैं और इस मेल में वे अपनी कई जरुरी फाइल्स को सेव करके रखते हैं  पर बहुत कम लोग ही यह जानते है कि gmail से कनेक्ट होने के लिए ऑनलाइन रहना आवश्यक नहीं है आप इसका इस्तेमाल offline भी कर सकते है|


Check offline Gmail

1.आपको सबसे पहले अपने gmail account को login करना होगा |

2.इसके बाद आपको chrome webstore से Gmail Offline को search करना होगा | 


kaise offline gmail check kare, how to access Email without internet in hindi


3.इसके बाद आपको “Add to chrome” पर click करना होगा | जिससे यह आपके pc या laptop में install हो जाएगा |

3.Gmail Offline को install करने के बाद आपके browser में एक new tab open होगी | जिस पर gmail offline का icon होगा | इस icon पर click करे और gmail offline start करे |





   
4. अब आपको next page पर “Allow offline mail “ के लिए रेडियो button पर click करना हैं, इस option पर click करने पर आपके latest gmail का डाटा आपके computer में save हो जाएगा | अब next page के proceed के लिए continue पर click करे |




5.अब आप देखंगे की आपका gmail inbox, Gmail app कारण kuch अलग दिखाई दे रहा हैं अब अपने स्क्रीन के right corner में जाकर setting का page open करे|

6.अब आप email को download करना चाहतें हैं, उनको choose कर ले | यह एक लम्बा टाइम लेगा | इसके लिए आप एक time select कर सकते हैं और apply to save changes पर click करे |

7.जब आप एक बार offline हो जाएगे तो आप अपने save email को Gmail offline inbox में देख सकते हैं इसमें आप email को view, reply या delete कर सकते हैं lakin यह तुरंत work नहीं करता हैं इसके लिए आपको दुबारा से internet से कनेक्ट होना होगा |


कैसे Gmail offline से डाटा delete करे ?

जब आप offline gmail का use करते हैं तो वह डाटा आपके computer में आ जाता हैं आपको इस डाटा को remove करने के लिए kuch steps को fellow करना होंगे| और एक जरुरी बात आपको इसके लिए internet की कोई need नहीं होती हैं|

1.सबसे पहले आप chrome browser को open करे और उसमें chrome://settings/cookies को टाइप करे |

2.अब आपको सर्च बॉक्स में mail.google.com को करना होगा |

3.आप gmail से related data को delete कर सकते हैं|

4.यदि आप सभी को delete करना चाहते हैं तो Remove all option पर click करे |

keyword:-kaise offline check kare gmail, how to access Email without internet information in hindi,  







 


जाने google के new app के बारे मे


Hi friends, मैं जानता हूँ कि bahut से लोगों ने google के इस new app के बारे में नहीं सुना होगा |चलिए मैं आज आपको google के इस new app के बारे में बताता हूँ google ने अपना new app "Google Allo" लांच किया हैं जिसको google ने  May में annouce किया था और जिसे september21,2016 को लांच किया गया | यह एक प्रकार का मोबाइल messanger app हैं,  इसका सीधा मुकाबला facebook के whatsup से होगा | यह app केवल Andorid and iOS के लिए  available हैं| दोस्तों में जानता हूँ कि आपको यह नाम new लग रहा हैं, लेकिन कुछ दिन बाद यह app भी whatsup की तरह famous हो जाएगा | इसे google ने "Google Assistant" का नाम भी दिया हैं|मैं इस application के बारे में आपको सारी जानकारी मे दूंगा | जैसेः- google allo क्या हैं?, इस पर अकाउंट कैसे बनाया जाता हैं?, इसमें group कैसे create किया जाता हैं?, इसे कैसे download किया जाता हैं? और इससे related सारी इनफार्मेशन  आपको इस post में दूंगा |

Google Allo क्या हैं ?
यह एक प्रकार का messaging app हैं जिसे दुनिया की सबसे बड़ी search engine कंपनी google n banaya हैं, इसकी sabse badi विशेषता यह कि हैं कि यह whatsup की तरह ही work करता हैं lakin यह whatsup से bahut adhik advance हैं आप इसमें news पढ़ सकते हो, koi bhi jaankari prapt कर सकते हो | और bahut इनफार्मेशन इससे प्राप्त कर सकते हैं|

कैसे google allo download करे ?
google allo app को andorid यूजर आसानी से google play स्टोर से download कर सकते हैं|
आप इसे नीचे दिए गए link से भी download कर सकते हैं-

kya h google allo app, kaise download allo app,


Download Google Allo App

download करने बाद आपको इस पर अपना account banana होगा | इसमें आपको account बनाने के लिए एक mobile no enter करना होगा |

google app ke features kya h, google app  information in hindi




 इसके बाद आपके mobile पर एक verification कोड आएगा |


 जिसे आपको verify करना होगा | code verify करने बाद आपको अपनी profile picture को upload करना हैं आप ये picture कही से भी upload कर सकते हैं| इसके बाद आपको next के option पर click करना होगा | अब आपका account create हो जाएगा | अब आप जो कुछ चाहते वो कर सकते हैं|

Google Allo app के features 

1)Incognition mode- यह google allo का बहुत अच्छा feature हैं जब आप Incognition mode option को on करते हैं और आप अपनी personal या important सूचना किसी को send करते हो तो यह आपकी सूचना को hack होने से रोकता हैं|



2)Shout(Whisper)-इसके बेहतरीन features में से यह भी एक बहुत अच्छा feature हैं इसकी help से आप Font Size को आसनी से change कर सकते हैं इसमें आपको smart keyboard का बार-बार use नहीं करना पड़ेगा | lakin aapko kuch work करना होगा | आपको simple text type करना होगा | जिससे “Louder” आपके message का Fontsize large कर देगा और bold भी कर देगा | आप इसके दूसरे option का use करके भी इसका fontsize change कर सकते हैं आप “Quieter” बोल कर भी इसका fontsize change कर सकते हैं|



3)One tough blockयह भी इस app का bahut अच्छा feature हैं इसकी help से किसी भी person को block कर सकते हैं सिर्फ आपको इस option को on करना हैं और आप जिस person को block करना चाहते हैं वह person block हो जाएगा |


4)Ink- इसके बेहतरीन features में से यह भी एक बहुत अच्छा feature हैं इसकी help से आप अपनी photo को स्पेशल बना सकते हो | इसका सबसे अच्छा feature यह भी हैं,कि आप अपनी photo को स्पेशल बनाकर Google Doodle के साथ share कर सकते हैं|

5)Media Smart Sharing- इस app का यह भी एक bahut अच्छा feature हैं आप unique feature के साथ  audio, video, photo को whatsup  की तरह share कर सकते हैं|

6)Entertainment-इस app की help से आप मनोरंजन भी कर सकते हैं यदि आप bore feel कर रहे हो तो इसके लिए आपको वहा पर "I am Bored" लिखना होगा| आपके लिखने पर यह आपको bahut option देगा जैसेः-video, game आदि application आपको ऑफर करेगा| अब आप जिस ऑफर को पसंद करते हैं उस पर click करके मनोरंजन ले सकते हैं|



कैसे google allo group create करे ?

google allo app में group create करना bahut आसान हैं आप whatsup की तरह इसमें group बना सकते हैं पर आपको कुछ steps को fellow करना होगा-

1)सबसे पहले आप जिस किसी को भी group में add करना चाहते हैं उनके numbers को select करे |
2)numbers को select करने बाद आप उन्हें add करे | इसके बाद next पर click करे|
3)अब आपको Group logo image को select करना होगा| आप चाहे तो “Avtar” logo को select कर सकते |
4)इसके बाद Done पर click करे | और आपका group create हो जाएगा |

google personal assistant क्या हैं ?

यदि आप इस app का use करे रहे हो और aapko kuch भी सर्च करना हैं तो आप इसकी help से सर्च कर सकते हैं इसके लिए आपको @ के बाद वो लिखना होगा जो आप सर्च करना चाहते हैं, वो सर्च हो जाएगा | और इसकी help से आप self chat भी कर सकते हैं|


क्यों google allo app advance हैं whatsup से

जी हाँ दोस्तों allo whatsup से bahut अधिक advance हैं चलिए देखते हैं क्या इसमें advance-
1)इस app की help से app 20 photo एक साथ share kar sakte हैं|

2)allo से आप message बिना टाइप kare send कर सकते हैं|

3)google के इस app की help से आप front या back camera से photo खीचकर आप किसी को भी direct send कर सकते हो|

4)इसमें आप प्राइवेट message भी send कर सकते हो और उस प्राइवेट message को delete भी कर सकते हो|

5)इस app की help से आप message send  करने वाले को quick reply भी कर सकते हैं|

6)allo की help से आप resturant, weather, game, fun और bahut से product को आप इससे direct देख  सकते हैं इसके लिए हमे अलग से किसी  browser की need nahi होगी |

7)इसकी help से आप अपने galary की photo को direct send कर सकते हैं|


कब Allo app hindi support करेगा ?

dosto यह app अभी kuch week पहले launch हुआ हैं यह app अभी hindi language को support नहीं करता हैं lakin kuch months के बाद या 2016 की ending तक hindi को भी support करेगा|


Keyword:-Google Allo App kya hain, Google Allo App Kaise Download Kare, Allo App Information in Hindi, what is the google app in hindi














       

कैसे pc की permanent delete file और folder को recover करे?


Hi friends यह एक बहुत important topic हैं क्योंकि लगभग सभी लोग यह पता करना चाहते हैं कि delete हुआ data कैसे recover किया जाता हैं, बहुत से लोग सोचते हैं कि यह बहुत difficult work हैं सही कहे तो यह कोई बड़ी बात नहीं हैं आज बहुत से software उपस्थित हैं जिनकी help से data को recover किया जा सकता हैं| चलिए जानते data कैसे recover करे :-

कोई भी file computer में दो तरीके  से delete होती हैं-
simple delete और shift + delete 

simple delete 

इस प्रकार के delete में file और folder delete key press करने पर delete हो जाते हैं और RecycleBin में पहुँच जाते हैं यदि आप इस situation में अपनी file और folder को recover करना चाहते हैं तो इन steps को follow करे :-
1)आप अपने pc या laptop के desktop पर जाए और वहा से RecycleBin open करे |
2)जिस file या folder को recover करना हैं तो उस पर click करे |
3)अब एक new window open होगी जिसमे आप restore option पर click करे अब आपकी file and folder जहा से delete हुए थे उसी location पर पहुँच जाएगे |

shift + delete 

बहुत से लोग अपने pc में shift + delete key press कर देते हैं जिसके कारण file pc से permanent delete हो जाती हैं जिससे वह file या folder Recycle Bin में show नहीं होती हैं इस situation में तो windows के पास भी आपकी file या folder को restore करने का कोई option नहीं होता हैं इस situation में कुछ software की हेल्प से permanent delete file को recover किया जा सकता हैं चलिए अब उन software के बारे में जानते हैं:-

Permanent delete  को recover करना 

1)Recuva Software

यह software image,audio,documents files etc को support करता हैं यह harddrive को scan करता हैं और delete permanent file को सर्च करके flashplayer में copy कर देता हैं 

Step1-सबसे पहले आपको इसे download और install करना होगा | आप इसे नीचे दिए गए link से download कर सकते हैं-


Step2-जब आपकी file download हो जाए तब इस पर double click करे और कुछ second का wait करे तब आपके सामने Recuva v1.50setup की एक window open होगी | अब window के नीचे दिए गए next option पर click करे |

permanent delete file recovery software, kaise permanent delete file को recover करे, how to recover perrmanent delete file information in hindi

   अब आपके सामने एक install option की list open होगी | इसमें आपको कुछ tick करने होंगे |

permanent delete file recovery software, kaise permanent delete file को recover करे, how to recover perrmanent delete file information in hindi

 इसके बाद आप install option पर click करे | अब आपके computer में Recuva install हो जाएगा |


 installation complete करने के बाद एक window open होगी | इसमें आपको finish के option पर click करना हैं click करने बाद Recuva आपके pc में successfully install हो जाएगा |

Step3-Recuva software के install होने के बाद इसका icon आपके desktop पर show करेगा | इस icon पर click करे और file start करे |



Step4-इसमें आप अलग-अलग प्रकार की file जैसे- audio,music,video etc को recover कर सकते हैं अब आप जिस file को recover करना चाहते उसे select करे या सभी को select भी कर सकते हैं 


और अब next के option पर click करे |

Step5-यह  important step हैं इसमें आपको उसे location को चुनना जहा से file delete हुई थी suppose करे आपकी file external harddrive, memorycard या किसी भी external device से delete हुई हैं उसे आपको external रूप से कनेक्ट करना होगा | यदि आप delete file की location को नहीं जानते हैं तो आप “I’m not sure” के option को select कर सकते हैं 


select करने के बाद next के option पर click करे |  
  
step6-delete file की location को चुनने के बाद आपको scanning process को start करना होगा | लेकिन ध्यान रखे कि “Enable Deep Scan” को tick नहीं करना हैं, अब आपका Recuva permanent delete file को recover करने के लिए तैयार हैं 



Step7-यह Recuva process का Last step हैं यहा पर एक window show होगी | जिसमे आपने जो file चुनी थी वो display होगी हैं अब आपकी file में कुछ colour show होंगे | 


यह colour data recovery की possibilty को बताते हैं यह colour code इन possibilty को show करता हैं-
Green-Excellent recovery
Yellow-Very poor recovery
Red-Can't recovery

Green colour Successful recovery को show करता हैं इसके बाद आपको green colour के सामने वाले चेक बॉक्स पर click करना होगा | और इसके बाद recover के option पर click करे |

2)Undelete Plus

यह लगभग 5.83kb का software होता हैं जो permanent delete file को recover करता हैं यह सभी windows file system को support करता हैं जिसमे NTFS/NTFS5, FAT12/32 शामिल होते हैं और यह केवल image को Multimedia, Compact Flash, Smart Media and Secure Digital cards से recover करता हैं |



3)Puran File Recovery

यह एक दूसरा bahut अच्छा software हैं जो permanent delete file को recover करता हैं यह किसी भी प्रकार की device को scan करता हैं जैसेः- USB,Pendrive,Mobiles आदि | इस software का दूसरा feature यह हैं कि किसी harddrive के partition को scan करता हैं|


4)EaseUS Data Recovery Wizard

यह एक best software होता हैं जो आपकी  permanent delete file को recover करता हैं यह windows के मेजर version को support करता हैं जैसेः- windows8.1,8,7,XP, Vista आदि | यह एक फ्री software हैं जिसकी 2GB तक की LIMIT हैं| 


Keyword- How to Recover a Permanent Delete  Files in hindi, recuva software ki help से  Permanent Delete  Files को recover  kaise KARE


Portable Device क्या हैं ?

दोस्तों हम में से बहुत लोगो ने portable device का नाम सुना हैं लेकिन हम से बहुत लोग ये नहीं जानते की आखिर portable device होती क्या हैं चलिए आज मैं आपको बताता हूँ कि portable device क्या हैं
यह एक विशेष प्रकार की device होती जिसको हम आसानी से कही भी लेकर जा सकते हैं latest portable device बहुत thin और lightweight होती हैं| जिसको easily उठाया जा सकता हैं| portable device को handheld या mobile device भी कहा जाता हैं| USB, external harddisk और webcams को portable device कहा जाता हैं|

जाने इन latest portable device के बारे में

Antilost Device क्या है ?
दोस्तों आजकल की busy life में अक्सर हम अपना  कुछ कीमती समान (keys, wallet, ATM card holder etc) को कही भी रखकर भूल जाते हैं और बहुत खोजने पर भी वह समान नहीं मिल पता हैं और जिसके कारण  हमारा बहुत time waste हो जाता है मैं जानता हूँ कि आपके साथ भी यह  problem होती होगी | इसलिए antilost आप ही  के लिए हैं  आईये जानते हैं antilost device के बारे में

यह एक प्रकार की key-chain device होती हैं इस प्रकार की device को आप  keys और card holder में key-Ring की तरह  या पर्स की pocket में रख सकते हैं| bluetooth से लैस  यह device smartphone से connect होती हैं , जो 100 मीटर तक track हो सकती हैं| इस डिवाइस का app आपको बहुत सही information देगा कि आपका गुम हुआ सामान आपसे कितने मीटर की दूरी पर हैं आप इसके app को  google play store से download कर सकते हैं| यह device जल्द discharge नहीं होगी क्योंकि इस minidevice में एक खास प्रकार की battery लगी होती हैं जो एक साल तक charge रहती हैं|


Portable Bluetooth Speaker क्या है ?

दोस्तों आपने बहुत से speaker के बारे में सुना होगा or देखा होगा लेकिन क्या आप  bluetooth speaker के बारे में जानते हैं  नहीं चलिए में इसके बारे में आपको बताता हूँ कि bluetooth speaker क्या होते हैं और ये किस प्रकार काम करते हैं
Portable Bluetooth Speaker

bluetooth speaker छोटे होते हैं और इनकी sound quality भी बहुत अच्छी होती हैं|  ये आपके , travelling या घर के लिए काफी best होते हैं| friends आजकल market में बहुत सारी brands के portable speaker  उपस्थित हैं ये इतने advance होते हैं कि इनमे speaker के साथ-साथ bluetooth camera, remote function और भी बहुत features होते है| इन speakers की help से आप अपने phone को दूर रखकर photo भी ले सकते हैं| और ली गई photo खूद phone में save हो जाएगीं | जब आप अपना speaker on करेंगें तो यह खूद से फ़ोन का music on कर देंगे |  


Keywords - What is a Portable Device information in Hindi, Portable Device Full Information, Portable Device Kya Hai, Antilost Device Kya hai, Antilost Device Information in Hindi, Portable Bluetooth Speaker kya hain, Portable Bluetooth Information in Hindi

Kategori

Kategori