Artikel Terbaru

recentpost

द्रवित पेट्रोलियम गैस(Liquified Petrolium Gas-LPG)


द्रवित  पेट्रोलियम  गैस(Liquified  Petrolium  Gas-LPG)


प्रथ्वी  के  अंदर  पेट्रोलियम  के  साथ-साथ  प्राकतिक  गैस  भी  विधमान  रहती  है|  प्राकतिक  गैस  मेथेन, ऐथेन,  प्रोपेन  आदि   गैसीय  हाईडृोकार्बन  और  H2,N2  और  CO2  आदि  होती  है|  जब   प्राकतिक  गैस  पर  उच्च  दाब  लगाते  है  तो  इसकी  प्रोपेन  और  butane  द्रवित  होक

 पृथक  हो  जाती  है | इस  द्रवित  ईंधन  को  उच्च  दाब   पर  स्टील  के  सिलिंडरो  मे  भर  लेते  है  और  यह  गैसो  का  द्रव  mixture, द्रवित  पेट्रोलियम  गैस  LPG  कहलाता  है|  दाब  हाटने  पर   द्रवित  गैस  पुनः  गैसीय  अवस्था  मे    जाती  है|

  द्रवित  पेट्रोलियम  गैस  के  मुख्य  अवयव  n-butane,  आइसो butane,  butanil  और  प्रोपेन  होते  है |
इसका   उष्मीय  मान  लगभग  27,800  किलो कैलोरी  प्रति  मीटर3  होता  है|
यह  इंडियन  और  भारत  गैस  आदि  नामो  के  अंतर्गत  सिलेंडरो  मे  उच्च  दाब(Pressure)  पर  उपलब्ध  होती  है |
एलपीजी  से  भरे  सिलिंडर  का  वाल्व(Valve)  पर  दाब(Pressure)  कम  होने  के  फलस्वरूप  द्रवित  गैस  वाष्प  रूप  मे  वर्नर  मे  प्रवेश  करती  है|  यह  जालने  पर  नीली  लो( Blue Light)  के  साथ  जलती  है  जिससे  प्रयाप्त  ताप(Temperature)  उत्पन्न  होता   है |

उपयोग(Use)-  यह  घरेलू  ईंधन  के  रूप  मे  अधिक  प्रयोग  की  जाती  है|  यह  मोटर  ईंधन  के  रूप  मे  भी  प्रयोग  मे  लायी  जाने  लायी  जाने  लगी  है |


EmoticonEmoticon